PM Modi के यूनिफॉर्म सिविल कोड पर बयान से खलबली, ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने बुलाई बैठक, PM ने विपक्षी पर किया कटाक्ष

123
modi

Patna: पीएम मोदी (PM Modi) द्वारा यूनिफॉर्म सिविल कोड (UCC), यानी समान नागरिक संहिता पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के बयान के बाद आनन-फानन में ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (All India Muslim Personal Law Board) ने एक बैठक बुलाई. यूनिफॉर्म सिविल कोड (uniform civil code) के मुद्दे पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की ये बैठक लगभग 3 घंटे चली. इस बैठक में यूनिफार्म सिविल कोड (uniform civil code) के कानूनी प्रक्रिया पर बात की गई.

यूनिफार्म सिविल कोड (uniform civil code) के कानूनी प्रक्रिया पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (All India Muslim Personal Law Board) ने अपना एक पूरा ड्राफ्ट तैयार करेगा. इसके बाद बोर्ड लॉ कमीशन के अध्यक्ष से मिलेंगे और ड्राफ्ट लॉ कमीशन को देगा. बैठक में PM मोदी (PM Modi) के बयान पर भी चर्चा की गई.

पीएम मोदी (PM Modi) ने यूनिफॉर्म सिविल कोड (uniform civil code) का विरोध करने वालों पर जमकर बरसे और कहा कि वे लोग अपने लाभ के लिए लोगों को भड़का रहे हैं. समान नागरिक संहिता का अर्थ है देश के सभी नागरिकों के लिए एक समान कानून होना, जो धर्म पर आधारित न हो.

यूनिफार्म सिविल कोड (uniform civil code) पर पीएम मोदी ने कही थी यह बात
आप को बता दे की PM मोदी (PM Modi) ने मंगलवार को भोपाल (Bhopal) में समान नागरिक संहिता (UCC) की पुरजोर वकालत की। साथ ही सवाल किया कि दोहरी व्यवस्था से देश कैसे चलेगा? पीएम मोदी (PM Modi) ने कहा कि इस संवेदनशील मुद्दे पर मुसलमानों को उकसाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि एक घर में परिवार के एक सदस्य के लिए एक कानून हो, दूसरे के लिए दूसरा कानून हो तो वह परिवार कैसे चलेगा। दोहरी व्यवस्था से देश कैसे चलेगा हमें याद रखना है कि भारत (India) के संविधान (Constitution) में भी नागरिकों के समान अधिकार की बात कही गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here