KK Pathak बिहार छोड़ Delhi जाएंगे, Nitish Government ने केंद्रीय प्रतिनियुक्ति के आवेदन को मंजूर कर लिया

596
KK-Pathak

KK Pathak: बिहार के चर्चित आईएएस अफसर (IAS officer) और शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक (KK Pathak) की बिहार से विदाई होने वाली है। 1990 बैच के आईएएस अधिकारी केके पाठक (KK Pathak) ने केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर दिल्ली (Delhi) जाने के लिए आवेदन दिया। नीतीश सरकार (Nitish Government) ने उनके आवेदन को स्वीकार करके एनओसी (NOC) भी दे दी है। गुरुवार को सामान्य प्रशासन विभाग के आधिकारिक सूत्रों ने इसकी पुष्टि की। राजभवन, शिक्षक संघ और राजनेताओं से हुए उनके विवादों के बाद इस कदम से राजनीति गलियारे में चर्चा शुरू हो गई है।

KK Pathak के फैसलों को लेकर शिक्षा विभाग में लगातार विवाद हो रहा था। शिक्षक संघ, अभिभावक संघ, राजनेताओं ने उनके फैसलों पर आपत्ति जताते हुए मोर्चा खोला। विवादों के बीच KK Pathak ने केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर जाने के लिए आवेदन दिया, जिसे नीतीश सरकार ने मंजूर भी कर लिया है। बताया जा रहा है कि विवादों से छुटकारा पाने के लिए KK Pathak ने दिल्ली (Delhi) जाने का मन बनाया है।

KK Pathak की राजभवन से तनातनी
हाल ही में राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर (Governor Rajendra Vishwanath Arlekar) से विश्वविद्यालयों (universities) के क्षेत्राधिकार को लेकर KK Pathak का झगड़ा हुआ। शिक्षा विभाग ने सभी कुलपतियों और विश्वविद्यालयों के पदाधिकारियों की बैठक बुलाई। राजभवन ने इस बैठक में जाने से पदाधिकारियों को मना कर दिया। इसके बाद राज्य के सभी वीसी ने इस मीटिंग से दूरी बनाए रखी। KK Pathak ने एक्शन लेते हुए बैठक में शामिल नहीं होने वाले वीसी और अन्य पदाधिकारियों का वेतन रोक दिया।

स्कूलों की टाइमिंग पर अड़े KK Pathak
इसके अलावा स्कूलों के समय को लेकर भी नीतीश सरकार (Nitish government) और KK Pathak के बीच लंबा विवाद चला। KK Pathak ने बिहार में शिक्षा व्यवस्था में सुधार के लिए स्कूलों का समय सुबह 9 से 5 बजे तक कर दिया। इसका शिक्षकों के साथ ही अभिभावकों ने विरोध शुरू किया। विधानमंडल के बजट सत्र के दौरान भी यह मुद्दा उठा। इसके बाद CM नीतीश कुमार ने कहा कि स्कूलों का समय सुबह 10 से 5 बजे तक ही रहेगा। KK Pathak से बात करके वह कह देंगे। CM नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के इस बयान के बाद भी विभाग की ओर से स्कूलों के समय में बदलाव का आदेश जारी नहीं हुआ तो विपक्ष ने सदन में जमकर हंगामा किया।

KK Pathak CM नीतीश कुमार के भरोसेमंद अफसरों में से एक माने जाते हैं। CM नीतीश कुमार ने उन्हें पिछले साल शिक्षा विभाग का एसीएस बनाया था, जिसके बाद उन्होंने कई तरह के नवाचार किए। स्कूलों में बच्चों की अनुपस्थिति से लेकर शिक्षकों की अनुशासनहीनता के खिलाफ वे सख्त दिखे। इसका उन्हें जमकर विरोध भी झेलना पड़ा। कुल मिलाकर पाठक का बीते 8 महीने का कार्यकाल विवादों भरा रहा। यहां तक कि महागठबंधन सरकार में शिक्षा विभाग के मंत्री रहे चंद्रशेखर से उनकी लंबे समय तक तकरार चली।

पिछले दिनों बिहार विधानसभा में KK Pathak का बचाव करते हुए CM नीतीश कुमार ने उनके कामों की तारीफ की थी। CM नीतीश कुमार ने कहा कि KK Pathak एक ईमानदार अफसर हैं। वह शिक्षा के क्षेत्र में सुधार लाने के लिए काम कर रहे हैं। उन्हें पद से हटाने की मांग कर रहे विपक्षी सदस्यों को भी सीएम ने खूब खरी-खोटी सुनाई।

यह भी पढ़ें :–

WhatsApp में आया एक और जबर्दस्त फीचर, Mark Zuckerberg ने बताया; कैसे करेगा काम?

CUET PG 2024 : CUET PG परीक्षा की डेटशीट जारी, देखें पूरी सब्जेक्ट वाइज पेपरों की तिथियां

Deepika Padukone ने अपने प्रेगनेंसी की घोषणा की , इस महीनें करेंगे अपने पहले बच्चे का स्वागत

Bihar Politics: 3 मार्च को पटना के गांधी मैदान में जन विश्वास महारैली, Nitish Kumar और BJP के खिलाफ तैयारी पूरी… बन गया मास्टर प्लान

Bihar STET : Bihar बोर्ड ने STET के लिए फॉर्म भरने का फिर से दिया एक और मौका, देखें डिटेल्स

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here