Patna में विपक्षी एकता की महाबैठक का वीडियो आया सामने देखिए कौन कहा बैठे है

135
cm-nitish-kumar

Patna: Bihar Politics: 2024 लोकसभा चुनाव के लिए अभी से ही सारी राजनीतिक पार्टियों अपने अपने तरीकों से बिसात बिछनी शुरू कर दी है। एनडीए (NDA) को सत्ता से उखाड़ फेंकने लिए बिहार (Bihar) की राजधानी पटना (Capital Patna) में राजनीति मंथन हो रहा है। कांग्रेस (Congress), जदयू (JDU), राजद (RJD), टीएमसी (TMC), आप (AAP) समेत 15 से ज्यादा विपक्षी राजनीतिक दल महाबैठक कर रहे हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) के आवास (Awas) पर हो रही इस बैठक का वीडियो सामने आया है।

महाबैठक में भगवंत मान, केजरीवाल, शरद पवार, ममता बनर्जी शामिल
महाबैठक का वीडियो में पंजाब के सीएम भगवंत मान (Punjab CM Bhagwant Mann), दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal), एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार (NCP supremo Sharad Pawar), टीएमसी अध्यक्ष ममता बनर्जी (TMC President Mamata Banerjee), राजद सुप्रीमो लालू यादव (RJD supremo Lalu Yadav), बिहार के सीएम नीतीश कुमार (Bihar CM Nitish Kumar), मल्लिकार्जुन खरगे (Mallikarjun Kharge), राहुल गांधी (Rahul Gandhi), हेमंत सोरेन (Hemant Soren) और अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के साथ तमाम दलों के नेता मौजूद हैं।

CM नीतीश कुमार के बगल में बैठे लालू यादव और मल्लिकार्जुन खरगे (Lalu Yadav and Mallikarjun Kharge sitting next to CM Nitish Kumar)
इस वीडियो (Video) में दिखाई दे रहे है सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) बाईं तरफ शरद पवार बैठे दिखाई दे रहे हैं, जबकि दाईं तरफ कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे बैठे हुए हैं। खरगे की साथ वाली 4 चेयर छोड़कर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल बैठे हुए हैं। केजरीवाल के बराबर में पंजाब के सीएम भगवंत मान बैठे दिख रहे हैं। उनके बाद पीडीपी सुप्रीमो महबूबा मुफ्ती बैठी हुई हैं।

CM नीतीश कुमाार ने की अध्यक्षता
बिहार के CM नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने बैठक की अध्यक्षता की है। मीडियाकर्मियों (media persons) को इस बैठक को कवर करने की इजाजत नहीं है।

बैठक पर BJP का निशाना
वहीं, इस महाबैठक को लेकर बीजेपी (BJP) ने निशाना साधा है। महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Maharashtra Deputy Chief Minister Devendra Fadnavis) ने कहा कि इन्होंने नाम तो दिया है मोदी (Modi) हटाओ, लेकिन यह गठबंधन परिवार बचाओ का है। सारी परिवारवादी पार्टियां अपने परिवार को बचाने के लिए गठबंधन कर रही हैं। ऐसा ही प्रयास 2019 में भी हुआ था पर कोई फायदा नहीं हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here