Home national बाबा साहेब अम्बेडकर के अनमोल वचन BR. AMBEDKAR QUOTES IN HINDI

बाबा साहेब अम्बेडकर के अनमोल वचन BR. AMBEDKAR QUOTES IN HINDI

142
BR-AMBEDKAR

01. “मैं ऐसे धर्म को मानता हूँ जो स्वतंत्रता, समानता और भाईचारा सिखाता है।” B. R. Ambedkar

02. “बुद्धि का विकास मानव के अस्तित्व का अंतिम लक्ष्य होना चाहिए।” B. R. Ambedkar

03. “मैं किसी समुदाय की प्रगति, महिलाओं ने जो प्रगति हासिल की है… उससे मापता हूँ।” B. R. Ambedkar

04. “जुल्म करने वाले से जुल्म सहने वाला ज्यादा गुनाहगार है।” B. R. Ambedkar

05. “मनुष्य नश्वर है। उसी तरह विचार भी नश्वर है। एक विचार को प्रचार प्रसार की जरुरत होती है जैसे पौधे को पानी की, नहीं तो दोनों मुरझा कर मर जाते हैं।” B. R. Ambedkar

06. “जब तक आप सामाजिक स्वतंत्रता हासिल नहीं कर लेते हैं, कानून आपको जो भी स्वतंत्रता देता है वो आपके लिए बेईमानी है।” B. R. Ambedkar

07. “बकरे का बलिदान किया जाता है लेकिन शेर का बलिदान करने की ताकत किसी में नहीं, इसलिए आप शेर बने। शेर की तरह अपने अधिकारों के लिए गरजते रहें।” B. R. Ambedkar

08. “हम भारतीय हैं पहले और अंत में।” B. R. Ambedkar

09. “जो समुदाय अपना इतिहास भूल जाते हैं, वह कभी इतिहास नहीं बना पाते हैं।” B. R. Ambedkar

10. “गुलाम बनकर जिओगे तो ये दुनिया कुत्ता समझकर लात मारेगी और नवाब बनकर जिओगे तो ये दुनिया… शेर समझकर सलाम ठोकेगी।” B. R. Ambedkar

11. “मैं राजनीति में सुख भोगने नहीं आया हूँ बल्कि अपने सभी दबे और कुचले भाइयों को उनके अधिकार दिलाने आया हूँ।” B. R. Ambedkar

12. “पति पत्नी के बीच का सम्बन्ध सबसे घनिष्ठ दोस्तों के सम्बन्ध के सामान होना चाहिए।” B. R. Ambedkar

13. “जीवन लंबा होने बजाय महान होना चाहिए।” B. R. Ambedkar

14. “हिन्दू धर्म में विवेक, कारण और स्वतंत्र सोच वाले विकास के लिए कोई गुंजाइश नहीं है।” B. R. Ambedkar

15. “जो धर्म जन्म से एक को श्रेष्ठ और दूसरे को नीच बनाये रखे, वह धर्म नहीं! बल्कि गुलाम बनाये रखने का एक षड़यंत्र है।” B. R. Ambedkar

AMBEDKAR QUOTES IN HINDI
16. “भौतिक गुलामी से मानसिक गुलामी ज्यादा खतरनाक है।” B. R. Ambedkar

17. “अपनी किस्मत के बजाय अपनी मजबूती पर विश्वास करो।” B. R. Ambedkar

18. “यदि मुझे लगा कि संविधान का दुरुपयोग हो रहा है तो मैं इसे सबसे पहले जलाऊंगा।” B. R. Ambedkar

19. “एक महान व्यक्ति एक प्रतिष्ठित व्यक्ति से अलग है क्योंकि वह समाज का सेवक बनने के लिए तैयार रहता है।” B. R. Ambedkar

20. “यदि सपने सच नहीं हो रहे हैं तो रास्ते बदलो! सिद्धांत नहीं क्योंकि पेड़ हमेशा पत्तियाँ बदलते हैं जड़ें नहीं।” B. R. Ambedkar
21. “मैं तो जीवन भर काम कर चुका हूँ अब नौजवान आगे आये।” B. R. Ambedkar

22. “मेरे इरादे हमेशा साफ होते हैं इसलिए कई लोग मेरे खिलाफ होते हैं।” B. R. Ambedkar

23. “उदासीनता लोगों को प्रभावित करने वाली सबसे बुरी किस्म की बीमारी है।” B. R. Ambedkar

24. “मेरे नाम की जय – जयकार करने से अच्छा है, मेरे बताये हुए रास्ते पर चलें।” B. R. Ambedkar

25. “शिक्षित बनो संगठित बनो।” B. R. Ambedkar

MOTIVATIONAL AMBEDKAR QUOTES IN HINDI
26. “मंदिर जाने वाले लोगों की लंबी कतारें, जिस दिन पुस्तकालय की ओर बढ़ेगी, उस दिन मेरे इस देश को महाशक्ति बनने से कोई रोक नही सकता है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

27. “संविधान केवल वकीलों का दस्‍तावेज नहीं है बल्कि यह जीवन का एक माध्‍यम है।”
डॉ भीमराव अंबेडकर

28. “अगर मुझे लगा की मेरे द्वारा बनाये संविधान का दुरुपयोग किया जा रहा है, तो सबसे पहले मैं इसे जलाऊंगा।”
डॉ भीमराव अंबेडकर

29. “जो धर्म स्वतंत्रता, समानता और बंधुत्व सिखाता है, वही सच्चा धर्म है।” डॉ भीमराव अंबेडकर

30. “मैं बहुत मुश्किल से इस कारवां को इस स्थिति तक लाया हूं। यदि मेरे लोग, मेरे सेनापति इस कारवां को आगे नहीं ले जा सकें, तो पीछे भी मत जाने देना।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

31. “मंदिर जाने वाले लोगों की लंबी कतारें, जिस दिन पुस्तकालय की ओर बढ़ेगी, उस दिन मेरे इस देश को महाशक्ति बनने से कोई रोक नही सकता है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

32. “सफलता कभी भी पक्की नही होती है और असफलता भी कभी अंतिम नही होती है… इसलिए अपनी कोशिश को तब तक जारी रखो तब तक आपकी जीत इतिहास ना बन जाए।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

33. “इरादे मेरे हमेशा साफ होते है, इसीलिए कई लोग मेरे खिलाफ होते है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

34. “अगर मुझे किसी समुदाय की प्रगति मापनी हो तो उस समुदाय की महिलाओं ने क्या प्रगति हासिल की है मैं उससे मापता हूं।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

35. “चमचे कभी वफादार नही होते हैं, और वफादार किसी के चमचे नही होते हैं।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

BABASAHEB AMBEDKAR SUVICHAR
36. “अगर मरने के बाद भी जीना चाहते हो तो एक काम जरूर करना… पढ़ने लायक कुछ लिख जाना या लिखने लायक कुछ कर जाना।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

37. “जो इंसान अपनी मौत को हमेशा याद रखता है, वही इंसान हमेशा अच्छे कार्य करने में लगा रहता है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

38. “अगर आप में गलत को गलत कहने की क्षमता नहीं है तो आपकी प्रतिभा व्यर्थ है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

39. “आप हमेशा अच्छा दिखने के लिए मत जिओ बल्कि आप एक अच्छे व्यक्ति बनने के लिए जिओ।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

40. “ज्ञानी लोग किताबों की पूजा करते हैं जबकि अज्ञानी लोग पत्थरों की पूजा करते हैं।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

41. “देश का राष्ट्रपति एक दलित हो सकता है लेकिन एक मंदिर का पुजारी नहीं हो सकता है… राष्ट्रपति बनना संविधान की देन है और पुजारी न बनना धर्म की देन है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

42. “अज्ञानता से भय पैदा होता है, भय से अंधविश्वास पैदा होता है… अंधविश्वास से अंधभक्ति पैदा होती है… अंधभक्ति से आदमी का विवेक शून्य हो जाता है और जिस आदमी का विवेक शून्य हो जाता है, फिर वह आदमी इंसान नहीं, मानसिक गुलाम हो जाता है इसलिए अज्ञानी नहीं, ज्ञानी बनो।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

43. “इस पूरी दुनिया में गरीब वही है जो शिक्षित नहीं है इसलिए आधी रोटी खा लेना लेकिन अपने बच्चों को जरूर पढ़ाना।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

BABASAHEB AMBEDKAR QUOTES IN HINDI
44. “शिक्षा जितनी पुरषों के लिए जरूरी है उतनी ही महिलाओं के लिए भी जरूरी है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

45. “जो इंसान झुक सकता है वह इंसान सारी दुनिया को झुका भी सकता है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर
46. “जुल्म के आगे दुश्मन भी झुक जाएगा हौसला बुलंद रखोगे तो वक्त भी रुक जाएगा बाबा साहेब कहते है की अगर एकता से चलोगे तो ये इंसान ही क्या आसमान भी झुक जाएगा।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

47. “मेरा जन्म भले ही हिंदू धर्म में हुआ है लेकिन मेरी मौत एक हिन्दू के रूप में नहीं होगी।”
डॉ. भीमराव अंबेडकर

48. “जब तक आप सामाजिक स्वतंत्रता हासिल नहीं कर लेते है तब तक कानून आपको जो भी स्वतंत्रता देता है वो आपके किसी काम की नहीं होती है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

49. “जो लोग इतिहास को भूल जाते है, वो लोग कभी भी इतिहास नहीं बना सकते है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

50. “शिक्षा प्राप्त करना एक शेरनी के दूध की तरह होती है जो जितना पिएगा वो उतना ही दहाड़ेगा।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

बाबा साहेब अम्बेडकर के अनमोल वचन
51. “जिसे अपने दुखों से मुक्ति चाहिए उसे लड़ना होगा और जिससे लड़ना है उसे उससे पहले अच्छे से पढ़ना होगा क्योंकि ज्ञान के बिना लड़ने गए तो आपकी हार निश्चित है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

52. “अन्याय से लड़ते हुए आपकी मौत हो जाती है तो आपकी आने वाली पीढ़ियां उसका बदला जरूर लेंगी अगर अन्याय सहते हुए आपकी मौत हो जाती है तो आपकी आने वाली पीढ़ियां भी गुलाम बनी रहेंगी।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

53. “अपनी झोपड़ी में राज करना दूसरों लोगों के महलों में गुलामी करने से कई गुना अच्छा है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

54. “समाज में अनपढ़ लोग है यह हमारे समाज की समस्या नहीं है लेकिन जब हमारे समाज के पढ़े हुए लोग भी गलत बातों का साथ देते हैं और चालाकी से गलत बात को सही दिखाने के लिए अपनी बुद्धि का इस्तेमाल करते हैं, यही हमारे समाज की समस्या है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

55. “हमारे देश के संविधान में मतदान का अधिकार एक ऐसी ताकत है, जो किसी ब्रह्मास्त्र से कहीं अधिक ताकत रखता है।” डॉ. भीमराव अंबेडकर

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here