नाटो को धमकी के 24 घंटे के अंदर ‘ब्रह्मास्त्र’ से बड़ी चेतावनी, रूस ने परमाणु मिसाइल का किया टेस्ट, Putin का क्या है प्लान?

157
Russia-nuclear-test

Russia Test Nuclear Missile : Ukraine में सेना भेजने पर Russia ने नाटो देशों को युद्ध और परमाणु हमले की धमकी दी थी। इस धमकी के 24 घंटे के अंदर ही रूस ने न्यूक्लियर मिसाइल लॉन्च किया है। 50 हजार किग्रा और 75 फीट के यार्स बैलिस्टिक मिसाइल का किया टेस्ट।

Washington: Russia ने पश्चिमी देशों पर परमाणु हमले की धमकी के 24 घंटे के अंदर ही न्यूक्लियर मिसाइल टेस्ट किया है। रूसी राष्ट्रपति कार्यालय Kremlin के कमांडरों ने Yars बैलिस्टिक मिसाइल के टेस्ट की घोषणा की है। परमाणु हथियार ले जा सकती है यह मिसाइल। Russia की सरकारी media की ओर से एक Video भी जारी किया गया है। इसमें 50 हजार किग्रा और 75 फीट के मिसाइल को एक मोबाइल लॉन्चर से दागते हुए दिखाया है। इससे पहले पुतिन ने राष्ट्र के नाम संबोधन में ढाई घंटे का भाषण दिया। इसमें उन्होंने परमाणु हथियारों के इस्तेमाल करने की धमकी भी दी।

नाटो देशों को Putin ने धमकी दी थी। उन्होंने नाटो को Ukraine युद्ध में हस्तक्षेप न करने को कहा। इसके अलावा उन्होंने इस दौरान परमाणु हथियारों से जुड़ी warning दी। Putin ने कहा था कि जिसने भी Russia पर हमला किया उसे दूसरे विश्वयुद्ध से ज्यादा खतरनाक परिणाम देखने को मिलेगा। Putin ने कहा था कि अगर उन्हें उकसाया गया तो वह परमाणु हथियारों का इस्तेमाल भी करेंगे। Russia के strategic न्यूक्लियर फोर्स को पूरी तरह से तैयार रखा है।

इस मिसाइल की ताकत कितनी है

Yars मिसाइल को नाटो की सेना SS-29 के नाम से जानती है। यह 32000 किमी प्रति घंटे की गति से अपने target को मार सकती है। ये मिसाइलें 500 किलोटन तक के परमाणु हथियारों को ले जाने की छमता रखती है। यह दूसरे विश्वयुद्ध में हिरोशिमा पर America की ओर से गिराए गए बम की ताकत का लगभग 30 गुना ज्यादा है। इसके अलावा एक बड़े इलाके में भयानक तबाही मचाने के लिए इसे कई अन्य हथियारों से भी लैस किया जा सकता है। Yars मिसाइल को साइलो, ट्रकों या फिर परमाणु ट्रेन से भी दागे जा सकता है जो Russia के चारों ओर घूमती है।

कितने है Russia के पास परमाणु हथियार

Russia के पास अनुमान के मुताबिक 150 से ज्यादा Yars मिसाइलें सर्विस में हैं। इसके अलावा Putin के पास 6000 परमाणु हथियार भी हैं। Russian सेना ने एक बयान में इस टेस्ट की पुष्टि की है। रूसी सेना ने कहा, ‘इस टेस्ट का उद्देश्य मिसाइल प्रणाली की सामरिक, टेक्निकल और उड़ान विशेषताओं की पुष्टि करना था। टेस्ट सफल रहा।’ France के राष्ट्रपति ने हाल ही में एक बयान में कहा था कि नाटो सेना Ukraine में भेजी जा सकती है। इसके जवाब में Putin पहले भी कहते रहे हैं कि सैनिकों को भेजना नाटो के साथ सीधा-सीधा युद्ध होगा।

यह भी पढ़ें :–

Gautam Gambhir: गौतम गंभीर ने अपने 5 सालों के करियर में राजनीतिक में अपना दबदबा बनाए रखा

स्पेन से आई महिला के साथ  गैंगरेप, खुद बाइक चलाकर इलाज के लिए अस्पताल पहुंची

Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव 2024 में पवन सिंह Shatrughan Sinha को देगी टक्कर, BJP ने किया ऐलान

KK Pathak बिहार छोड़ Delhi जाएंगे, Nitish Government ने केंद्रीय प्रतिनियुक्ति के आवेदन को मंजूर कर लिय

WhatsApp में आया एक और जबर्दस्त फीचर, Mark Zuckerberg ने बताया; कैसे करेगा काम?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here