Rishabh Pant Car Accident: ऋषभ पंत को मुंबई किया जा सकता है शिफ्ट, BCCI की मेडिकल टीम करेगी इलाज

160
Rishabh-Pant

Rishabh Pant Car Accident: कार एक्सीडेंट (car accident) में घायल (Injured) हुए भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार क्रिकेटर ऋषभ पंत (Indian cricket team star cricketer Rishabh Pant) को बेहतर इलाज (treatment) के लिए मुंबई (Mumbai) भेजा जा सकता है. बीसीसीआई (BCCI) की मेडिकल (Medical) टीम उनके लिगामेंट (ligament) का इलाज करेगी. भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के विकेटकीपर (wicket keeper) बल्लेबाज (batsman) ऋषभ पंत (Rishabh Pant) 30 दिसंबर (30 December) को रुड़की (Roorkee) के पास कार एक्सीडेंट (car accident) में बुरी तरह घायल (Injured) हो गए थे.उनकी कार डिवाइडर (car divider) से टकरा गई और उसमें आग लग गई. इस दौरान ऋषभ पंत (Rishabh Pant) के माथे (forehead), पीठ (Back) और पैरों (legs) में काफी चोट आई. पहले उन्हें नजदीकी हॉस्पिटल (hospital) में भर्ती कराया गया. लेकिन बाद में ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को देहरादून (Dehradun) रेफर (Refer) कर दिया गया जहां मैक्स हॉस्पिटल (Max Hospital) में उनका इलाज (treatment) चल रहा है.

क्रिकेटर ऋषभ पंत को मुंबई किया जा सकता है शिफ्ट (Cricketer Rishabh Pant can be shifted to Mumbai)
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (Board of Control for Cricket in India) ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की चोट के बारे में कोई ढील बरतना नहीं चाहता. बीसीसीआई (BCCI) सूत्रों के हवाले से, क्रिकेटर ऋषभ पंत (cricketer Rishabh Pant) के लिगामेंट (ligament) चोट का इलाज अब भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की मेडिकल टीम (Medical team of the Board of Control for Cricket in India) करेगी. बीसीसीआई (BCCI) के डॉक्टर (Doctor) देहरादून (Dehradun) के मैक्स हॉस्पिटल (Max Hospital) के डॉक्टरों (doctors) के संपर्क (Contact) में हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, बीसीसीआई ने मैक्स हॉस्पिटल को बता दिया है कि क्रिकेटर ऋषभ पंत के लिगामेंट की पूरी जिम्मेदारी अब बोर्ड की मेडिकल टीम की होगी.

क्रिकेटर ऋषभ पंत वापसी करने में लगेगा लंबा वक्त

रिपोर्ट्स के अनुसार अगले कुछ दिनों में ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को मैक्स हॉस्पिटल (Max Hospital) से छुट्टी किया जा सकता है. इसके बाद उन्हें मुंबई शिफ्ट (mumbai shift) किया जाएगा. जहां बीसीसीआई की मेडिकल टीम (BCCI medical team) उनके लिगामेंट की जांच करेगी उनकी चोट किस स्तर की है. इसके बाद फैसला लिया जाएगा कि ऋषभ पंत को विदेश भेजा जाए या नहीं. लिगामेंट फायबर्स (ligament fibers) का ऐसा ग्रुप होता है जो हड्डियों (bones) को आपस में जोड़ता है. इसमें जब इंजरी होती है तो जख्म भरने में समय लगता है. ऐसा कहा जा रहा है कि पंत को फिट होने में 9 महीने का वक्त लग सकता है. ऐसे में वह क्रिकेट (Cricket) से लंबे समय तक बाहर रह सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here