Meta: Apple ने मार्क जुकरबर्ग दिया बड़ा झटका, इस देश में WhatsApp और Threads हुए बैन

301
WhatsApp

Mark Zuckerberg: Meta के सोशल मीडिया Apps WhatsApp और Threads को Apple ने अपने App Store से हटा दिया है। Meta के इन दोनों प्लेटफॉर्म पर चीन में बड़ी कार्रवाई की गई है। चीनी सरकार ने Meta के इन दोनों ऐप्स को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा बताया है। सामने आ रही रिपोर्ट के मुताबिक, Apple से इन दोनों ऐप्स को अपने app Store से हटाने के लिए निर्देश जारी किया गया था, जिसके बाद एप्पल ने इन दोनों ऐप्स को चीन में ऐप स्टोर से हटा दिया है। हालांकि, Meta के अन्य ऐप्स Facebook, Instagram और Messanger पर सरकार ने बैन हीं लगाया है। ये तीनों Apps फिलहाल apple app store से नहीं हटाए गए हैं।

राष्ट्रीय सुरक्षा कारणों से लगा प्रतिबंध
इससे पहले पाकिस्तान सरकार ने भी ऐसा कदम उठाया था। एलन मस्क (elon musk) के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X (Twitter) पर पाकिस्तान सरकार (government of pakistan) ने भी सुरक्षा कारणों से बैन लगा दिया है। सामने आ रही रिपोर्ट के मुताबिक, चीनी सरकार ने Meta के इन दोनों सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म (social media platform) पर राष्ट्रीय सुरक्षा में बाधा पहुंचाने का आरोप लगाया है। Meta के दोनों ऐप्स को अपने प्लेटफॉर्म से हटाने पर Apple ने कहा है कि चीन के साइबरस्पेस एडमिनिस्ट्रेशन ने इन्हें हटाने के लिए आदेश जारी किया है। हालांकि, अभी तक यह साफ नहीं है कि WhatsApp और Threads किस तरह से चीन के राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा बन रहे थे। वाट्सऐप दुनिया का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप है।

Apple ने अपने स्टेटमेंट में बताया कि हम जिस देश में काम करते हैं, वहां के नियमों का पालन करना पड़ता है। भले ही हम किसी बात से असहमत ही क्यों न हों। हालांकि, मार्क जुकरबर्ग (mark zuckerberg) की कंपनी Meta की तरफ से इस मामले में कोई टिप्पणी जारी नहीं की गई है। साथ ही, चीन सरकार (Chinese government) ने भी नहीं बताया है कि ये दोनों ऐप्स किस तरह से राष्ट्रीय सुरक्षा में बाधा पहुंचा रहे थे।

अन्य देशों में बैन नहीं हैं ये ऐप्स
एप्पल ने बताया कि Meta के ये दोनों ऐप्स चीन के अलावा अन्य देशों में ऐप स्टोर पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध रहेंगे। वहीं, कुछ एक्सपर्ट्स का मानना है कि चीन में लागू हुए नए नियमों की वजह से इन दोनों ऐप्स पर कार्रवाई की गई है। चीनी एडमिनिस्ट्रेशन ने सभी ऐप्स को 31 मार्च तक रजिस्ट्रेशन करने के लिए डेडलाइन दी थी। जिन ऐप्स ने चीनी सरकार के पास रजिस्ट्रेशन नहीं कराया है, उन पर कार्रवाई की जा रही है।

ऐसा पहली बार नहीं है
चीन सरकार ने इससे पहले भी ऐसा काम कर चुके हैं । इससे पहले चीन में ChatGPT जैसे जेनरेटिव AI फीचर वाले कई ऐप्स पर प्रतिबंध लग चुका है।

ये भी पढ़ें-

Voter ID Card के बिना भी डाल सकते हैं वोट, जरूरी है ये Documents, Online चेक कर लें Voter List में नाम

Jharkhand Board 10th Result 2024 Out: झारखंड बोर्ड मैट्रिक 10th का रिजल्ट जारी, 90.39% Students पास, डायरेक्ट लिंक से चेक करें रिजल्ट

Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव के 102 सीटों पर पहले फेज का मतदान शुरू, 2 राज्यों में विधानसभा चुनावों की वोटिंग

IPL 2024 MI vs PBKS: मुंबई ने रोमांचक मैच में पंजाब को 9 रन से हराया, सूर्यकुमार यादव ने खेली तूफानी पारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here