Manish Kashyap को 7 दिनों की रिमांड पर लेगी EOU, दो-दो राज्यों की पुलिस करेगी पूछताछ

163
Manish-Kashyap

पटना Patna: तमिलनाडु (Tamil Nadu) में बिहारी (Bihari) मजदूरों (laborers) पर हमले का फर्जी वीडियो (fake video) बनाकर वायरल (viral) करने के मामले में गिरफ्तार (Arrested) यूट्यूबर (youtuber) और पत्रकार (Journalist) मनीष कश्यप (Manish Kashyap) को बिहार (Bihar) पुलिस (Police) रिमांड (remand) पर लेगी। मामले की जांच कर रही आर्थिक अपराध इकाई (EOU) ने कोर्ट में रिमांड (remand) की अर्जी दी है। पुलिस (Police) सूत्रों के अनुसार, 7 दिनों की रिमांड मांगी गई है। उम्मीद है कि मंगलवार को कोर्ट मनीष कश्यप (Manish Kashyap) को 5 से 7 दिनों की रिमांड पर पुलिस को सौंप सकती है। इसके बाद पुलिस मनीष कश्यप (Manish Kashyap) से पूरे मामले में विस्तार से पूछताछ करेगी।

फेक वीडियो (fake video) बनाकर वायरल (viral) करने के मामले की जांच को लेकर तमिलनाडु पुलिस (Tamil Nadu Police) की जांच भी जारी है। पुलिस मुख्यालय (police headquarters) के एडीजी जितेंद्र सिंह गंगवार (ADG Jitendra Singh Gangwar) ने सोमवार (Monday) को बताया कि इस प्रकरण को लेकर तमिलनाडु (Tamil Nadu) में करीब एक दर्जन प्राथमिकी दर्ज (a dozen FIRs registered) की गई है। इसको लेकर तमिलनाडु पुलिस (Tamil Nadu Police) की टीम बिहार समेत कई राज्यों में जाकर जांच कर रही है। तमिलनाडु पुलिस (Tamil Nadu Police) भी क्या मनीष कश्यप (Manish Kashyap) को रिमांड (remand) पर लेगी, इस सवाल पर एडीजी (ADG) ने कहा कि पहले तो बिहार पुलिस (Bihar Police) रिमांड (Remand) मांगेगी।

3 आरोपितों की तलाश में छापेमारी जारी (Raids continue in search of 3 accused)
तमिलनाडु (Tamil Nadu) मामले में ईओयू (EOU) ने 3 प्राथमिकी दर्ज की है, जिनमें अभी तक मनीष कश्यप (Manish Kashyap) सहित 5 आरोपितों को गिरफ्तार (Arrested) किया गया है। भोजपुर (Bhojpur) के युवराज सिंह राजपूत (Yuvraj Singh Rajput) समेत 3 प्राथमिक अभियुक्त अभी भी फरार हैं, जिनकी तलाश में लगातार छापेमारी की जा रही है। पुलिस (Police) सूत्रों के अनुसार, ईओयू (EOU) की एक टीम उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में भी अभियुक्त की तलाश में छापेमारी कर रही है।

आप को बता दें कि बेतिया (Bettiah) में कुर्की के दौरान आत्मसमर्पण करने के बाद यूट्यूबर (youtuber) और पत्रकार मनीष कश्यप (Journalist Manish Kashyap) को बिहार पुलिस पटना (Bihar Police Patna) लेकर आ गई थी। शनिवार की शाम पटना (Patna) आने के बाद आर्थिक अपराध इकाई (Economic Offenses Unit) (ईओयू EOU) की टीम ने उससे देर रात तक पूछताछ की। रविवार को (EOU) ने उसे विशेष अदालत में पेश किया था, जिसके बाद मनीष कश्यप (Manish Kashyap) को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया (Sent to jail in judicial custody for 14 days)। मजदूरों के फर्जी वीडियो (fake video) मामले की जांच को लेकर तमिलनाडु पुलिस (Tamil Nadu Police) की टीम भी पटना (Patna) में है। मनीष कश्यप (Manish Kashyap) की रिमांड मिली तो ईओयू (EOU) के साथ तमिलनाडु पुलिस (Tamil Nadu Police) भी फर्जी वीडियो (fake video) मामले में उससे पूछताछ कर सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here