Madhubani KYC के स्थापना दिवस पर 32 समाजसेवी हुए Social Worker Award से सम्मानित

124
madhubani-kyc

Madhubani जिला के बेनीपट्टी (Benipatti) में स्थित केवाईसी फाउंडेशन (KYC Foundation) के तत्वावधान में मिथिला सोशल वर्कर अवार्ड 2023 (Mithila Social Worker Award 2023) का आयोजन मिथिला वाटिका मधुबनी (Mithila Vatika Madhubani) में किया गया। इस सम्मान समारोह के मुख्य अतिथि पद्मश्री दुलारी देवी (Padmashree Dulari Devi), पुलिस अधीक्षक मधुबनी सुशील कुमार (Superintendent of Police Madhubani Sushil Kumar),विशिष्ट अतिथि के तौर पर मिथिला रत्न कुंज बिहारी (Mithila Ratna Kunj Bihari) उपस्थित रहें।

मुख्य अतिथि व विशिष्ट अतिथि के हाथों 32 समाजसेवियों को अवार्ड (Award to 32 social workers) दिया गया सोशल वर्कर अवार्ड (social worker award) सेरेमनी (ceremony) में उन व्यक्तियों को पुरस्कृत गया जो समाज के लिए हर समय तत्पर रहते हैं उसी क्रम में कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पुलिस अधीक्षक मधुबनी ने कहा यह सिर्फ़ अवार्ड नहीं यह सम्मान है आपके उत्कृष्ट कार्यों के लिए जिन्होने अपना पूरा जीवन समाज में किसी ना किसी क्षेत्र में लगाया है ।

समाज (Society) को जागरूक करने का हर समय प्रयास किया है इस कार्यक्रम में जो भी है अवॉर्डी को पुरस्कार दिया गया उन में से अनेकों आवर्डी राज्य पुरस्कार व राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजे जा चुके हैं। इसमें इस कार्यक्रम में पदमश्री अवॉडी, बाल पुरुस्कार विजेता, ओलम्पिक, क्वालिफायर, नेशनल, इन्टरनेशनल चैम्पियन, स्पोर्ट्स पर्सन, आर्ट एवं कला क्षेत्र के प्रतिनिधि, सामाजिक कार्यक्रर्ता, प्रोफेसर, रिसर्चर, डॉक्टर, टी.बी. फिल्म जगत के जाने माने हस्ती एवं अन्यक्षेत्र के अति विशिष्ट व्यक्ति एवं मीडिया क्षेत्र के जाने माने व्यक्ति का सम्मान किया गया। मधुबनी जिला में सोशल वर्कर अवॉर्ड होते हुए पहली बार देख रहा हूं इसके लिए केवाईसी फाउंडेशन को मैं बधाई देता हूं।

पदमश्री दुलारी देवी ने कहा कार्यक्रम के आयोजक टीम केवाईसी फाउंडेशन द्वारा अनेकों समजिक कार्यक्रम में भागीदारी देखने को मिलती है ,समय-समय पर यह मैराथन के माध्यम से स्पोर्ट्स को आगे बढ़ाने में अपना योगदान देते रहते हैं प्रदीप झा बासु ने कहा दहेज प्रथा के ऊपर भी केवाईसी के संयोजक पंकज अनेकों जगह पर विरोध करते नजर आए हैं, और मिथिला मैराथन दौड़ के नाम से इनकी संस्थान प्रसिद्ध है और पूरे बिहार में मुझे लगता है ऐसे युवाओं का होना बहुत ही आवश्यक है पंकज जो कार्य कर रहे हैं यह एक सराहनीय कदम है ऐसे युवाओं की समाज में आवश्यकता है।

डॉ अनीता झा ने केवाईसी के कार्यों के बारे में बताया विधवा महिला व विकलांगों के लिए और छात्र एवं छात्राओं के लिए सड़क पर उतरते हुए इनकी आवाज को बुलंद करने में अपना महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। अभी तक केवाईसी के द्वारा 307 युवाओं को सेना में भर्ती कराया जा चुका है। प्रसिद्ध चिकित्सक डॉक्टर पीआर सुल्तानिया ने बताया के वाई सी संस्थान के द्वारा अन्य जगहों पर प्रतियोगिताओं का आयोजन कराया जाता है जिसमें इनको पूर्णता सहयोग सामाजिक लोगों के द्वारा मिलता है ।पंकज झा ने बात चीत के दौरान फाउन्डेश की विस्तृत जानकारी दी कहा संस्था के संरक्षक के द्वारा मुझे बेहतर सहयोग प्राप्त होता है जिसमें डॉ अनीता झा महत्वपूर्ण भूमिका प्रदान करती है ,जो महिलाओं के लिए और बच्चों के लिए अनेक तरह की संस्थाओं से जुड़ कर उनका विवाह कराना हो उनको पढ़ाई लिखाई में किसी तरह की परेशानियां हो या विधवा महिला को किसी तरह की परेशानी हो समय डॉ अनीता झा खास तौर पर सहयोग करती है डॉ पी आर सुलतानिया प्रदीप झा बासु, सौरभ सिंघानिया और अन्य सभी स्थानीय व्यक्ति वह मीडिया बंधुओं का सहयोग मुझे आशीर्वाद के रूप में प्राप्त होता है इसलिए आज मैं इस लायक बना हूं कि मिथिला की आवाज पूरे भारतवर्ष में गूंज रही है और आगे भी पूरे विश्व में अपना परचम लहराने का प्रयास करता रहूंगा।

कार्यक्रम के संयोजक पंकज झा ने बताया कि सोशल वर्कर अवॉर्ड कार्यक्रम के लिए 200 से अधिक नाम हमारे पास आए थे उसमें से एक 32 नामों का चयन हमारी निर्णायक मंडल के द्वारा किया गया इसमें उन महत्वपूर्ण लोगों का चयन किया गया है जिन्होंने राजकीय व राष्ट्रीय अन्यथा समाज में विशेष तौर पर अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया हे। जो व्यक्ति जमीन से जुड़कर समाज के लिए राष्ट्र के लिए कार्य कर रहे हैं उनको सोशल वर्कर अवार्ड 2023 से सम्मानित किया गया है। इस कार्यक्रम में सुभाष झा,ब्रह्मानंद झा, अशोक झा, लक्षमण पण्डित, अंजलि देवी, दिलीप झा, सन्तोष पासवान, विकाश झा, निधी कुमारी, अनुज मंडल, विभा कुमारी, गुनगुन, पूजा अन्य लोग कार्यकर्ता के तौर पर उपस्थित रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here