Fantasy World Water Park: क्या फैंटेसी वर्ल्ड वाटर पार्क हुआ साजिश का शिकार ?

34
Fantasy World Water Park

Fantasy World Water Park: मेरठ: कभी-कभी कुछ हादसे इस तरह से होते हैं, जिनमें इंसान का सब कुछ खत्म हो जाता है, एक इंसान की जिंदगी की कीमत का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है, क्योंकि जीवन अनमोल है। लेकिन हादसे में एक इंसान की जिंदगी के साथ-साथ आस-पास के लोगों का क्या-क्या जाता है, इसका उदहारण है, अभी हाल ही में हुआ एक हादसा। जब उत्तर प्रदेश के मेरठ के परतापुर में फैंटेसी वर्ल्ड वाटर पार्क में रविवार शाम दोस्तों के साथ नहाने के लिए आए मोदीनगर निवासी एचडीएफसी बैंक के मैनेजर की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। दरअसल स्लाइडिंग के दौरान वह बेहोश हो गए। जैसे ही ये घटना घटी वैसे ही वाटर पार्क प्रशासन और मैनेजर को उनके दोस्त अस्पताल लेकर दौड़े, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने फिलहाल आशंका जाहिर कि है कि दिल का दौरा पड़ने के कारण मौत हुई है।

लेकिन मृतक मैनेजर के परिवार वालों ने वॉटर पार्क (Water Park) प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया है। इसके साथ ही मैनेजर के परिजनों ने पुलिस पर वाटर पार्क मालिक को संरक्षण देने का आरोप लगाया है। अब भला, जिस प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हों, जहां उनकी सरकार में जिस तरह से पुलिसिंग में बदलाव आए और यूपी पुलिस (UP Police) की कार्यप्रणाली की बेहतरी के तौर अन्य प्रदेशों में मिसाल दी जाती हो, वह पुलिस कैसे किसी के साथ भेदभाव कर सकती है, हालांकि मेरठ जिलाधिकारी (Meerut District Magistrate) ने कार्ऱवाई के तौर पर वॉटर पार्क को बंद करा दिए, लेकिन इस हादसे के बाद हर तरफ एक ही सवाल उठ रहे हैं, कि एक हादसे को लापरवाही का नाम देकर कुछ रसूखदारों और कथिक पत्रकारों ने साजिश तो नहीं बना दिया, ये एक यक्ष प्रश्न है, जिसका जवाब हमें तलाशने की जरूरत है, क्योंकि मेरठ जैसे शहर में जब किसी को सैर सपाटा और मौजमस्ती करनी होती है, तो वो दिल्ली और बाकी शहरों का रुख करता है, जबकि मेरठ में वर्ल्ड वाटर पार्क खुल जाने से लोगों की वो परेशानी दूर हो गई, जो बात कुछ रसूखदारों को पसंद ना आई हो, क्योंकि आज की तारीख में कौन ही किसे बढ़ते देखना चाहता है, वहीं बात ये भी निकल कर आई, कि कुछ कथित पत्रकार, जो आए दिन वॉटर पार्क में खुद और खुद के अपनों को लाना चाहते हैं, वो भी बिना टिकट के, लेकिन जब वॉटर पार्क ने सभी के लिए एक जैसे नियम बनाए, तो उन्हें वो बात ना पची हो, जिससे हादसा होते ही उसे वॉटर पार्क की लापरवाही का नाम दे दिया।

इस पूरे मामले में वॉटर पार्क प्रशासन का कहना है कि उनके द्वारा सभी वो नियम को गाइडलाइन में है, उनका विधिवत पालन किया जाता है, जैसे फर्स्ट एड से लेकर सिक्योरिटी और हर राइड के पास पर्याप्त रूप में वो लोग जो किसी अनहोनी में व्यक्ति की मदद कर सकें आदि। हालांकि जिला प्रशासन पूरे मामले की जांच कर रहा है, लेकिन इस पहलुओं की भी चर्चा होनी चाहिए, कि पूरे वॉटर पार्क में काम करने वाले ना जाने कितने लोग बेरोज़गार घूम रहे हैं, ऐसे में वॉटर पार्क प्रशासन को भी शासन-प्रसासन पर पूरा भरोसा है कि देर सवेर ही सही, उन्हें न्याय जरूर मिलेगा और वॉटर पार्क प्रशासन का कहना ये भी है मृतक के परिवार से पूरी संवेदना है और भगवान ऐसा दिन किसी की भी जिंदगी में ना लाए साथ ही कोई भी संस्थान, परिवार, किसी भी साजिश का शिकार ना हो। ये वो सवाल थे, जो इस पूरे मामले में उठ रहे हैं।

ये भी पढ़ें-:

Jammu and Kashmir Kathua : जम्मू-कश्मीर के कठुआ में सेना के काफिले पर आतंकवादियों के हमले में 4 जवान शहीद, 6 घायल

Bihar B.Ed Entrance Exam Result Released 2024: B.Ed एंट्रेंस एग्जाम का रिजल्ट हुआ जारी, हाजीपुर की प्रीति अनमोल बनीं टॉपर

CTET Exam July 2024: दरभंगा में दूसरे के बदले CTET का Exam देते 12 ‘मुन्ना भाई’ गिरफ्तार, Students से लिया था मोटा पैसा

India vs Zimbabwe 2nd T20 2024: India ने Zimbabwe को 100 रन से हराया, मुकेश ने खेली आतिशी पारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here